x
Image Credit: shortpedia

मोहन भागवत का कहना इस बात का था अंबेडकर को भी अफसोस

jyoti ojha

Content Editor

शनिवार को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि संस्कृत को जाने बिना भारत को पूरी तरह से समझना मुश्किल है। उन्होंने कहा देश में सभी मौजूदा भाषाएं सभी कम से कम 30 प्रतिशत संस्कृत शब्दों से बनी हैं।भागवत ने कहा कि यहां तक कि डा. बी आर अंबेडकर ने भी इस बात पर अफसोस जताया था कि उन्हें संस्कृत सीखने का अवसर नहीं मिला जो देश की परंपराओं के बारे में जानने के लिए महत्वपूर्ण है।

ShortPedia
Smart Content App Hand picked content everyday