x
Image Credit: NDTV.com

1984 सिख दंगों में शामिल कांग्रेसी नेता सज्जन कुमार की किस्मत पर फैसला आज

Shortpedia

Content Team

साल था 1984. 31 अक्टूबर को भारत की प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की उनके ही निजी सुरक्षाकर्मियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी जिसके बाद पूरे देश में काफी अशांति फैल गई. चूंकि गोली मारने वाले सिख थे तो पूरे देश में सिखों को निशाना बनाया जाने लगा. इसी बीच दिल्ली में एक ही परिवार के 5 लोगों को भी मार दिया गया था जिसमें मुख्य आरोप कांग्रेसी नेता सज्जन कुमार सहित अन्य लोगों पर लगा था. इसी मामले में आज दिल्ली हाईकोर्ट अपना फैसला सुनाने जा रहा है

ShortPedia
Smart Content App Hand picked content everyday