x
Image Credit: shortpedia

जमा 280 लाख मीट्रिक टन कूड़े की छंटाई कार्य के लिए MCD ने की ये ख़ास मांग

दिल्ली की MCD द्वारा भलस्वा, ओखला और गाजीपुर लैंडफिल साइट द्वारा जमा 280 लाख मीट्रिक टन कूड़े की बायो माइनिंग अर्थात छंटाई की तैयारी शुरू की जा चुकी है लेकिन इसके लिए सबसे बड़ी चुनौती है कि बायो माइनिंग के बाद कूड़े के अवशेषों को कहां रखा जाए । जिसे लेकर एमसीडी ने इसके लिए भाटी माइंस फॉरेस्ट एरिया में फॉरेस्ट डिपार्टमेंट से 450 एकड़ जमीन की मांग की है|

jyoti ojha

Content Editor
ShortPedia
Smart Content App Hand picked content everyday