side-banner

बिना हिस्सेदारी खरीदे Future Retail को कंट्रोल करना चाहती है Amazon

Kapil Chauhan

News Editor
Image Credit: Shortpedia

अमेजन बिना हिस्सेदारी खरीदे फ्यूचर रिटेल को कंट्रोल करना चाहती है। कानूनविदों ने इस कदम को एफडीआई नियमों का उल्लंघन बताया है। दरअसल, अमेजन डेढ़ साल पुराने करार के जरिए रिलायंस और फ्यूचर रिटेल के 24,713 करोड़ रुपये के सौदे को रुकवा चुकी है। अमेजन ने सीधे तौर पर फ्यूचर रिटेल में कोई हिस्सेदारी नहीं खरीदी है, बल्कि फ्यूचर समूह की अनुषंगी कंपनी फ्यूचर कूपंस में 49% हिस्सेदारी खरीदी थी।

ShortPedia
Smart Content App Hand picked content everyday